Categories
Uncategorized

सुप्रीम कोर्ट ने CLAT 2021 को स्थगित करने से किया इनकार, 23 जुलाई को को ही होगी प्रवेश परीक्षा ।

22 राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालयों में स्नातक और स्नातकोत्तर डिग्री कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए उम्मीदवारों का चयन करने के लिए कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT), 2021 आयोजित किया जाता है।
एक एनजीओ ने कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट को टालने की मांग करते हुए एक याचिका दायर की थी।
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को 23 जुलाई को होने वाली कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT) 2021 को स्थगित करने से इनकार कर दिया। कोर्ट एनजीओ जस्टिस फॉर ऑल द्वारा दायर एक याचिका पर सुनवाई कर रही थी।

याचिकाकर्ताओं ने शीर्ष अदालत से कोविड -19 की स्थिति सामान्य होने तक CLAT परीक्षा को स्थगित करने या प्रवेश परीक्षा आयोजित करने का एक वैकल्पिक, सुरक्षित तरीका तैयार करने का आग्रह किया था।

लेकिन न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव और न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस की पीठ ने याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया। अदालत ने निर्देश दिया कि सभी सुरक्षा उपायों का कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए और संबंधित अधिकारियों को इस मुद्दे पर जोर नहीं देना चाहिए कि परीक्षा देने वाले छात्रों ने टीकाकरण किया होगा।
न्यायमूर्ति राव ने याचिकाकर्ताओं से कहा, "आपको अंतिम समय पर नहीं आना चाहिए। CLAT परीक्षा, 2021 में लगभग 80,000 छात्र भाग ले रहे हैं।"

द कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज (NLUs) द्वारा CLAT 2021 के लिए एडमिट कार्ड पिछले हफ्ते (14 जुलाई) बुधवार को जारी किया गया था। पूर्वोत्तर राज्यों को छोड़कर, अन्य सभी छात्रों के लिए प्रवेश पत्र उपलब्ध हैं।
CLAT परीक्षा 23 जुलाई को दोपहर 2 बजे से शाम 4 बजे तक आयोजित होने वाली है.

कोविड -19 महामारी को देखते हुए, एनएलयू के संघ ने इस वर्ष परीक्षा केंद्रों की संख्या में वृद्धि की है। CLAT 2021 के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरने की आखिरी तारीख 15 जून थी।

22 एनएलयू में स्नातक और स्नातकोत्तर डिग्री कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए उम्मीदवारों का चयन करने के लिए परीक्षा आयोजित की जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *